Breaking News

‘फैमिली ऑफ प्रेस’ सकारात्मक पत्रकारिता की एक कड़ी है- अनिल तिवारी

पिछले दस साल से लगातार प्रकाशित हो रहा ‘फैमिली ऑफ प्रेस’ सकारात्मक पत्रकारिता की एक कड़ी है इसके दशक पूर्ति अंक का विमोचन हुआ जो सफलता का प्रतीक है, ऐसा उद्गार रविवार ११ मार्च को ‘दोपहर का सामना’ के निवासी संपादक अनिल तिवारी ने व्यक्त किया। इस संदर्भ में इच्छापूर्ति मंदिर सभागृह में आयोजित इस विमोचन कार्यक्रम में शामिल जनता ने अनिल तिवारी जी का जोरदार तालियों से स्वागत किया।

गौरतलब है कि वर्ष २०१० में ‘दोपहर का सामना’ के संवाददाता मोतीलाल नागर चौधरी ने अपने सहयोगी सहायक संपादक अनुज पांडेय के साथ मिलकर ‘फैमिली ऑफ प्रेस’ पुस्तक की नींव रखी थी। जिसके संपादक मोतीलाल चौधरी की देखरेख में तब से लगातार फैमिली ऑफ प्रेस मीडिया डायरेक्टरी का प्रकाशन हो रहा है। इस बार इस मीडिया डायरेक्टरी के दसवें अंक का विमोचन रविवार ११ मार्च २०१८ को जोगेश्वरी लिंक रोड के इच्छापूर्ति मंदिर सभागृह में ‘दोपहर का सामना’ के निवासी संपादक अनिल तिवारी, महाराष्ट्र के गृहनिर्माण, उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री रवींद्र वायकर व ‘नूतन सवेरा’ के संपादक नंदकिशोर नौटियाल के हाथों संपन्न हुआ। इस अवसर पर समारोह अध्यक्ष अनिल तिवारी ने अपने संबोधन में उपस्थित मीडियावालों को संबोधित करते हुए कहा कि ‘फैमिली ऑफ प्रेस’ सकारात्मक पत्रकारिता की एक कड़ी है। इसके लिए मोतीलाल चौधरी ने कड़ी मेहनत की है जो सराहनीय है। मुख्य अतिथि रवींद्र वायकर ने फैमिली ऑफ प्रेस को रजत जयंती मनाने की शुभेच्छा दी।

उक्त अवसर पर ‘दोपहर का सामना’ के वरिष्ठ उपसंपादक पुष्पराज मिश्रा, संवाददाता अनिल पांडेय, संवाददाता रवींद्र मिश्रा, रवि निषाद, संजीव शाहू, सुनील सिंह, अजय सिंह, आनंद मिश्र, राजीव शर्मा, मनोज पटेल, रवि यादव, चंद्रभान मिश्रा, जितेंद्र मल्लाह, महिला सशक्तीकरण संस्था की सुंदरी ठाकुर, सतीश गुप्ता, श्यामसुंदर शर्मा, सलीम अंसारी, निलेश, अजय, मनीष, निकिता, अंकिता, संतोष शुक्ल, बृजेश सिंह सहित अनेक मान्यवर उपस्थित थे। कार्यक्रम में आए हुए अतिथियों का स्वागत व आभार प्रदर्शन फैमिली मिली ऑफ प्रेस के सहायक संपादक अनुज कुमार पांडेय ने किया।

Loading...

Check Also

पंचतत्वों में विलीन हुऐ ,अब इतिहास के पन्नो में जाने जायेंगे “अजातशत्रु” अटल बिहारी बाजपेई

लखनऊ : पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को शुुुुक्रवार शाम राष्‍‍‍‍‍‍ट्रीय स्‍मृति स्‍थल पर हिंदू ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *