Breaking News

सीएम अरविंद केजरीवाल के घर पर तलाशी के बाद , पुलिस का कहना है कि यहां सबूत, घटना की स्टडी और सीसीटीवी फुटेज लेने के लिए आना पड़ा

नई दिल्ली: एडिश्नल डीसीपी नॉर्थ दिल्ली हरिंदर सिंह का कहना है कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के घर पर तलाशी के बाद मीडिया से बात करते हुए बताया कि पुलिस को घटना से संबंधित जांच के लिए यहां आना पड़ा. पुलिस का कहना है कि यहां सबूत, घटना की स्टडी और सीसीटीवी फुटेज लेने के लिए आना पड़ा. एडिश्नल डीसीपी नॉर्थ दिल्ली हरिंदर सिंह ने बताया कि हमने घटना के अगले दिन ही कैमरों की रिकॉर्डिंग मांगी थी लेकिन नहीं दी गई. इसलिए आना पड़ा.

उन्होंने बताया कि बाहर 21 कमरे हैं, ड्राइंग रुम और कॉरिडोर में सीसीटीवी हैं. लेकिन कुछ कैमरे काम नहीं कर रहे थे. उन्होंने कहा कि हमने सीएम अरविंद केजरीवाल को नहीं बिठाया था और न ही पूछताछ की.

पुलिस का कहना है कि हमने उन्हें सूचना दी थी. सीएम ऑफिस को आने की सूचना पहले ही दी गई थी. सीसीटीवी हार्ड डिस्क आज पुलिस ने सीज की है. 
पुलिस ने बताया कि 14 कैमरों में रिकॉर्डिंग हो रही थी. बाकी 7 कैमरों में रिकॉर्डिंग नहीं हो रही थी. इसकी जांच की जाएगी. फॉरंसिक टीम देखेगी कि आखिर ये कैमरे क्यों काम नहीं कर रहे थे. कहीं जानबूझकर तो ऐसा नहीं किया गया. क्या कोई टैम्परिंग हुई है.

पुलिस ने एक चौंकाने वाला खुलासा भी किया. सिंह ने बताया कि सभी कैमरे 40 मिनट 42 सेकेंड पीछे चल रहे हैं. इसकी भी जांच होगी क्या टाइम जानबूझकर गलत किया गया है. इस पूरे मामले की जांच साइंटिफिक तरीके से होगी. उन्होंने बताया कि पुलिस ने सभी 21 कैमरों के डाटा सीज किए हैं.

Loading...

Check Also

पासपोर्ट विवाद: विकास ने कहा गलत जानकारी और गलत पते पर माँगा जा रहा था पासपोर्ट

निकाहनामे में तन्वी सेठ का नाम सादिया हसन, आवेदन फॉर्म में नहीं भरा नाम बदलने का ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *