Breaking News

पब्लिक सेक्टर के दूसरे सबसे बड़े पीएनबी बैंक से कभी पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने भी लिया था 5000 रु का लोन

नई दिल्ली। पब्लिक सेक्टर का दूसरा सबसे बड़ा पीएनबी बैंक में हुए देश सबसे बड़े बैंक घोटाले के चलते सुर्खियों में बना हुआ है। नीरव मोदी और मेहुल चौकसी ने जिस तरह से पीएनबी बैंक को 11 हजार 500 करोड़ का चुना लगाया तो उसके बाद और कई बेईमानों के नाम भी सामने आने लगें हैं। हालांकि इन सब के बीच प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का नाम भी आया है और उनकी ईमानदारी के लिए सराहना की जा रही है।बात उस समय की है जब लाल बहादुर शास्त्री भारत के प्रधानमंत्री थे। उनकी सादगी के चर्चे आज भी सुनाए जाते है। प्रधानमंत्री होते हुए भी उनके पास न खुद का घर था और न ही कोई गाड़ी। लाल बहादुर शास्त्री के परिवार वालों ने एक बार उनसे कहा कि आप देश के प्रधानमंत्री हैं और आपके पास एक कार तक नहीं है। ऐसे में उन्होनें कार खरीदने का फैसला किया।
प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने अपने सचिव से कहा कि जरा पता करो कि मेरे बैंक खाते में कितने पैसे है। सचिव देखकर उनको बताया कि आपके अकाउंट में 7000 रूपये है। उस जमाने में फिएट कार 12 हजार की आती थी। शास्त्री ने फैसला किया वो कार खरीदेगें और बाकि 5 हजार रूपये बैंक से लोन लेकर जुटाएगें।

लाल बहादुर शास्त्री ने पीएनबी बैंक से 5 हजार रूपये का लोन लेकर कार खरीदी। हालांकि लोन चुकाने से पहले शास्त्री जी की मृत्यु हो गई थी। इसके बाद प्रधानमंत्री बनी इंदिरा गांधी न यह लोन माफ कर दिया लेकिन उनकी पत्नी ललिता शास्त्री ने कहा कि वो लोन खुद चुकाएगीं।

वहीं लाल बहादुर शास्त्री के बेटे अनिल शास्त्री का कहना है कि जब उनको यह पता चला कि उनके पास कार खरीदने के लिए पैसे नहीं तो हमने उन्हें कार नहीं लेने को कहा था। उन्होंने कहा कि कार शास्त्री जी की मौत के बाद यहा कार हमेशा मेरे साथ रही।

पीएनबी बैंक में हुए 11 हजार 500 करोड़ के घोटाले के बाद लोग घोटाले बाजों को नए नए नाम देनें लगें है। आजकल लोग कह रहें है कि बैंक घोटाले का दूसरा नाम है नीरव मोदी लेकिन जब ईमानदारी की मिसाल दी जाएगी तो लाल बहादुर शास्त्री का नाम जरूर आएगा।

Loading...

Check Also

सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर नहीं थम रहा विवाद, हिंसा और प्रदर्शन के बीच मुख्य पुजारी ने महिलाओं से मंदिर न आने को कहा

लखनऊ/तिरुवनंतपुरम : केरल के सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर शुरू हुआ विवाद लगातार ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *