Breaking News

सामाजिक सद्भाव को बिगाड़ना और जाति-धर्म का उन्माद फैलाना बीजेपी की फितरत में है : अखिलेश यादव

अशोक यादव / लखनऊ : पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि मुख्यमंत्री द्वारा समाजवादी विचारधारा को आतंकवादी बताना आजादी के आंदोलन का अपमान है। चूंकि भाजपा आरएसएस आजादी के आंदोलन में दूर-दूर तक शामिल नहीं रहे थे इसलिए वे उसके मूल्यों एवं आदर्शों से पूरी तरह अनभिज्ञ हैं। उन्होंने मांग की कि मुख्यमंत्री जी को समाजवादियों पर आपत्तिजनक और अनैतिक बयान देने के लिए माफी मांगनी चाहिए।
पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा भाजपा विकास विरोधी पार्टी है। वह पिछड़ों, दलितों, गरीबों और किसानों की दुश्मन पार्टी है। केंद्र की भाजपा सरकार ने जनहित में कोई काम नहीं किया है। किसानों को धोखा दिया हैं। समाजवादी पार्टी के कामों को ही भाजपा अपने काम बताती है। समाजवादी सरकार के एक्सप्रेस-वे और लैपटाप जैसी बड़े कामों को जनता आज भी याद करती है।
अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी पर मुख्यमंत्री जी स्तरहीन और अनर्गल आरोप लगा रहे हैं। राजनीति में शिष्टाचार नाम की चीज से उनका यह परहेज निंदनीय है। भाजपा लोकतंत्र का अपने आचरण से मजाक बना रही है।
पूर्व मुख्यमंत्री ने पूछा कि केंद्र सरकार ने चार वर्षों में उत्तर प्रदेश में कितना निवेश किया है? और यूपी में विकास का क्या काम है? नौजवान रोजगार न मांगे इसलिए बच्चों को आंतकित कर उनको परीक्षाओं से वंचित कर दिया गया है। श्री यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री जी को जनहित में काम करना चाहिए। वे सिर्फ समाजवादी पार्टी को कोसने को ही अपना काम समझते है। जनकल्याण के मुद्दों पर बात करने के बजाय भाजपा बहकी-बहकी बातें करती है।
उन्होंने कहा भाजपा समाज को बांटने वाली पार्टी है। सामाजिक सद्भाव को बिगाड़ना और जाति-धर्म का उन्माद फैलाना उसकी फितरत में है। श्री यादव ने कहा भाजपा स्वयं परिवारवादी पार्टी है। समाजवादी पार्टी पर कोई आरोप लगाने से पहले भाजपा को अपने गिरेबान में झांकना चाहिए। भाजपा में तमाम बड़े नेताओं के पुत्र-पौत्र -पुत्रियां तमाम ओहदों पर बैठाए गए हैं।
यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार ने 55 लाख गरीब महिलाओं को समाजवादी पेंशन का लाभ दिया था। किसानों को कर्जमाफी के साथ मुफ्त सिंचाई सुविधा दी गई थी। महिलाओं की सुरक्षा के लिए 1090 वूमेन पावर लाइन और अपराध नियंत्रण के लिए यूपी डायल 100 नं0 सेवा शुरू की गयी थी। बीमारों और घायलों को अस्पताल लाने-ले जाने के लिए 108 नं0 समाजवादी एम्बूलेंस सेवा शुरू की गई थी। भाजपा सरकार ने आते ही जनहित की इन योजनाओं को बर्बाद कर दिया है।
अखिलेश यादव ने गोमतीनगर, लखनऊ स्थित आवास पर जाकर वरिष्ठ समाजवादी नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा , सांसद को उनके 78 वें जन्मदिवस पर बधाई दी तथा उनका आशीर्वाद लिया।
उपरोक्त समय पर  बेनी प्रसाद वर्मा के पुत्र पूर्व कैबिनेट मंत्री राकेश वर्मा उपस्थित थे। पूर्व मंत्री राजेन्द्र चौधरी के साथ एमएलसी राजेश यादव ने भी बेनी प्रसाद वर्मा को जन्मदिन की बधाई दी तथा उनके स्वास्थ्य एवं दीर्घ जीवन की कामना की।
Loading...

Check Also

एचडी कुमारस्वामी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री व जी परमेश्वर ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली , मंच पर विपक्षी एकजुटता की झलक भी दिखी

बेंगलुरु / लखनऊ : एचडी कुमारस्वामी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली. कर्नाटक के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *