Breaking News

किसान देश का अन्नदाता है , किसान दुःखी होगा तो समाज विकास नहीं कर सकता है : अराधना मिश्रा [ मोना ]

अशोक यादव / लखनऊ : काँग्रेस विधायिका अराधना मिश्रा [ मोना ]  ने गोसाईगंज के बस्तिया गाँव में  किसान महापंचायत को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज किसान पानी, बिजली के लिए  तरस रहा है , उसे अपनी उपज का उचित मूल्य भी नहीं मिल पा रहा है , आलू की फसल उसे सड़कों पर फेंकने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। अवारा जानवर उसकी फसलों को नष्ट कर रहे हैं। प्रदेश सरकार सिर्फ किसानों के साथ छलावा करने के अलावा कुछ नहीं किया है। उन्होने कहा कि किसान देश का अन्नदाता है। किसान दुःखी होगा तो समाज विकास नहीं कर सकता है। उन्होने किसानों के हितों के लिए कांग्रेस पार्टी द्वारा किये गये संघर्ष को याद दिलाते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी किसानों के हितों के लिए सदैव संघर्ष करती रहेगी।महात्मा गांधी किसान सन्देश ट्रैक्टर – ट्राली यात्रा 30 जनवरी से 11 फरवरी तक के पहले पड़ाव के आखिरी चरण में आज जिलाध्यक्ष गौरव चौधरी व  गुँजन यादव के नेतृत्व में  सरोजनीनगर से मलिहाबाद, बख्शी का तालाब होते हुए मोहनलालगंज के गोसाईगंज के बस्तियां गांव में समाप्त हुई, जहां किसान महापंचायत का आयोजन किया गया। पदयात्रा में लगभग 160 गाँव मे चौपाले और पदयात्राएं की गई।

जिला महासचिव मनोज शुक्ला ने बताया कि महात्मा गांधी किसान संदेश यात्रा उत्तर प्रदेश राज्य  किसान आयोग के गठन के साथ 12 सूत्रीय किसान चौपाल और पदयात्रा थी जिसकी प्रमुख माँगे : – राज्य किसान आयोग का गठन , मनरेगा के तहत मजदूरों का न्यूनतम मजदूरी और कार्य दिवस बढ़ाया जाए ,  तालाबों और ग्राम पंचायत की जमीन कब्जे से मुक्त हों , किसान के अनाज भंडारण की उचित व्यवस्था की जाए , कर्जमाफी के नाम पर धोखाधड़ी बन्द हो , ग्रामीण स्तर पर हो अनाज के क्रय. विक्रय हेतु मण्डियां स्थापित हों , कृषि शिक्षा को प्राथमिक विद्यालय स्तर अनिवार्य किया जाए और किसान के बच्चों को  उच्च कृषि शिक्षा में बढ़ावा दिया जाए , महंगी बिजली से किसानों की टूटी कमरए कृषि उपयोग हेतु बिजली बिल की दर को घटाया जाए , फसल बीमा के नाम पर धोखा दिया निजी कंपनियों को लाभ बन्द हो ,न्यूनतम समर्थन मूल्य को बढ़ाया जाएए किसान की लागत में 50प्रतिशत लाभ जोड़कर न्यूनतम समर्थन मूल्य तय किया जाए , आवारा पशुओं से मचा हाहाकार, किसानों की फसलें हो रही बर्बाद , ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि आधारित ऐसे उद्योग धंधों की स्थापना की जानी चाहिए।

कार्यक्रम में  किसान महापंचायत में विधायिका आराधना मिश्र ने जिलाध्यक्ष गौरव चौधरी व गुँजन यादव की सभी मांगो को विधानसभा में रखने की बात कही और उत्तर प्रदेश राज्य किसान आयोग के गठन का समर्थन किया।

 

Loading...

Check Also

भारी बारिश ने केरल में चारो तरफ तबाही मचाया अब तक 324 लोगों की मौत हो गई,इलाकों का जायजा लेने पीएम मोदी भी पहुंचे

लखनऊ : केरल में बाढ़ ने भारी तबाही मचाई है. बाढ़ से केरल के कई ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *