Breaking News

महेंद्र सिंह धोनी के आलोचकों पर भड़के कोच रवि शास्त्री, कहा- माही की आलोचना करने वाले जूते के फीते तक नहीं बांध सकते

टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को संन्यास लेने की राय देने वालो लोगों पर टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री जमकर बरसे हैं। शास्त्री ने कहा है कि जो लोग धोनी की आलोचना कर रहे हैं और उनके क्रिकेटिंग भविष्य को लेकर सवाल उठा रहे हैं, एमएस धोनी पर टिप्पणी करने वाले आधे लोग भी अपने जूत्ते के फीते तक नहीं बांध सकते हैं और वह धोनी के भविष्य को लेकर बयान दे रहे हैं। शास्त्री ने कहा कि धोनी को लेकर खुद से वक्तव्य देना उनके प्रति असम्मान है।
टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में शास्त्री ने कहा कि भारत के लिए 15 साल खेलने वाले खिलाड़ी को क्या यह नहीं पता होगा कि कब क्या करना सही होगा? जब वह टेस्ट से रिटायर हुए थे तो उन्होंने क्या कहा था? यही कि ऋद्धिमान साहा को ‘कीपिंग ग्लब्स’ सौंपने का यह सही वक्त था। वह सही थे। जब भी टीम की बात आती है तो वह हमेशा अपने आइडिया और विचार रखने को तैयार रहते हैं।अभी पिछले ही दिनों वह रांची टेस्ट के अंतिम दिन ड्रेसिंग रूम में आए और उन्होंने शाहबाज नदीम से बात की। जो खिलाड़ी अपने घर पर डेब्यू कर रहा है उसके लिए यह क्या शानदार मोटिवेशन होगा? एमएस धोनी ने अपने खेल यह अधिकार पाया है कि वह खुद यह निर्णय लें कि उन्हें कब रिटायर करना है। अब इस बहस का अंत करना चाहिए।
हेड कोच ने कहा कि आधे से ज्यादा लोग एमएस धोनी पर यही कॉमेंट कर रहे हैं कि अब वह मैदान पर टीम इंडिया की जर्सी में नहीं दिखेंगे। यह देखिए कि उन्होंने देश के लिए क्या उपलब्धियां हासिल की हैं। लोग इतनी जल्दी में क्यों हैं कि वह संन्यास ले लें? शायद उनके पास बात करने के लिए कोई और मुद्दा नहीं है। वह खुद और जो भी उन्हें जानते हैं, सभी को पता है वह जल्दी ही इस खेल से दूर हो जाएंगे। तो फिर इसे जब होना है, तब होने दो न।

Loading...

Check Also

बांग्लादेशी क्रिकेटरों ने हड़ताल को खत्म करने की घोषणा की, बोर्ड ने मानी सभी मांगे

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड द्वारा सभी मांगो को मानने के बाद बांग्लादेशी क्रिकेटरों ने हड़ताल को ...