Breaking News

एनसीआरबी रिपोर्ट को लेकर बरसी कांग्रेस, कहा- मोदी सरकार विश्वसनीय डाटा जुटाने में असमर्थ

नई दिल्ली : कांग्रेस ने राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) द्वारा देश में पीट-पीट कर हत्या, धार्मिक हत्याओं तथा पत्रकारों पर हमले जैसे अपराधों के आंकड़े नहीं देने पर सरकार की आलोचना की। पार्टी ने कहा कि आंकड़े छिपाकर वह अपनी अक्षमता प्रदर्शन कर रही है। कांग्रेस ने बुधवार को अपने आधिकारिक पेज पर ट्वीट किया कि गृह मंत्रालय का दावा है कि पीट-पीट कर हत्या करने, धार्मिक हत्याओं और पत्रकारों पर हमले आदि के आंकड़े ‘विश्वसनीय नहीं हैं इसलिए इनको एनसीआरबी के डाटा में शामिल नहीं किया गया है। सवाल उठता है कि क्या सरकार विश्वसनीय डाटा जुटाने में असमर्थ है ।  फिर यह उसका इससे बचने का सरल तरीका है। इसके साथ ही एक अखबार की खबर भी पोस्ट की गयी है । जिसमें कहा गया कि गृह मंत्रालय ने दंगों के दौरान बलात्कार, गौ कानून, घृणा फैलाने वाले अपराध, पत्रकारों पर हमले, आरटीआई कार्यकर्ताओं पर हमले जैसे 25 श्रेणियों के अपराध के आंकड़े रोक दिए हैं। पार्टी ने कहा कि आंकड़े छिपाकर वह अपनी अक्षमता प्रदर्शन कर रही है। कांग्रेस ने बुधवार को अपने आधिकारिक पेज पर ट्वीट किया कि गृह मंत्रालय का दावा है कि पीट-पीट कर हत्या करने, धार्मिक हत्याओं और पत्रकारों पर हमले आदि के आंकड़े ‘विश्वसनीय नहीं हैं इसलिए इनको एनसीआरबी के डाटा में शामिल नहीं किया गया है।

Loading...

Check Also

सीबीआई के पूर्व चीफ को नहीं दिया गया GPF, सेवानिवृत्ति लाभ के लिए दर-दर भटक रहे हैं आलोक वर्मा

नई दिल्ली: कभी देश के सबसे ताकतवर पुलिस अधिकारी माने जाने वाले केंद्रीय जांच ब्यूरो ...