Breaking News

एलओसी का दौरा करने वाले विदेशी राजनयिकों के साथ शामिल नहीं हुए भारतीय अधिकारी

इस्लामाबाद : पाकिस्तान ने मंगलवार को कहा कि नियंत्रण रेखा (एलओसी) के साथ लगने वाले सेक्टरों के दौरे पर गये कुछ विदेशी राजनयिकों के साथ भारतीय अधिकारी नहीं गये। वहीं, भारतीय सेना ने तीन आतंकवादी शिविरों को नष्ट करने का दावा किया है।सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने रविवार को कहा था कि जम्मू-कश्मीर के तंगधार और केरान सेक्टर में भारतीय सेना की ओर से की गयी जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना के छह से 10 सैनिक मारे गये और तीन आतंकवादी शिविर नष्ट किये गये। उन्होंने कहा था कि भारतीय बलों की कार्रवाई में एक अन्य आतंकी शिविर बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया और जवाबी कार्रवाई से नियंत्रण रेखा के पास आतंकवादी ढांचों को काफी नुकसान पहुंचा। वहीं, पाकिस्तानी सेना ने रविवार को कहा था कि भारत अपने दावे को साबित करने के लिए कथित आतंकी शिविरों तक किसी विदेशी राजनयिक या मीडिया को ले जा सकता है। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने कहा कि इस्लामाबाद में विभिन्न विदेशी दूतावास के राजनयिक जुरा और शाहकोट सेक्टर का दौरा कर रहे हैं। फैसल ने कहा, रत की तरफ से कोई भी एलओसी के इस दौरे में शामिल नहीं हुआ और न ही उन्होंने कथित ‘लॉन्चपैडश् को चिह्नित करने वाले कोई संकेत दिये। उन्होंने कहा कि, भारतीय सेना प्रमुख के दावे महज दावे हैं। एलओसी का दौरा कर रहे राजनयिकों के साथ पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल भी मौजूद थे।

Loading...

Check Also

महिला कर्मी ने हवाई टिकटों के अपग्रेडेशन में किया 5.57 करोड़ का फ्रॉड

बोस्टन : इंटरनेशनल एयरलाइन की एक महिला कर्मचारी द्वारा साढ़े पांच करोड़ रुपए से ज्यादा ...